वाक्य के भेद - Vakyo ke bhed in hindi with example

कर्ता और क्रिया के आधार पर वाक्य के भेद

कर्ता और क्रिया के आधार पर वाक्य के दो भेद होते हैं-
  1. उद्देश्य 
  2. विधेय
जिसके बारे में बात की जाय उसे उद्देश्य कहते हैं और जो बात की जाय उसे विधेय कहते हैं।
उदाहरण के लिए-
  • 'मोहन प्रयाग में रहता है'।
इसमें उद्देश्य है - 'मोहन' ,
और विधेय है - 'प्रयाग में रहता है।'

वाक्य के भेद एवं प्रकार

वाक्य भेद दो प्रकार से किए जा सकते हँ-
  1. अर्थ के आधार पर वाक्य भेद
  2. रचना के आधार पर वाक्य भेद

1. अर्थ के आधार पर वाक्य के भेद

अर्थ के आधार पर 8 प्रकार के वाक्य होते हैं -
  1. विधान वाचक वाक्य
  2. निषेधवाचक वाक्य
  3. प्रश्नवाचक वाक्य
  4. विस्म्यादिवाचक वाक्य
  5. आज्ञावाचक वाक्य
  6. इच्छावाचक वाक्य
  7. संकेतवाचक वाक्य
  8. संदेहवाचक वाक्य

2. रचना के आधार पर वाक्य के भेद

रचना के आधार पर वाक्य के निम्नलिखित 3 भेद होते हैं-
  1. सरल वाक्य/साधारण वाक्य
  2. संयुक्त वाक्य
  3. मिश्रित/मिश्र वाक्य
Vakyo Ke Bhed Prakar Ya Vargikaran
विस्तार से जानने के लिए जाए : वाक्य पर।

Post a Comment

0 Comments